भारत की सबसे बङी झील कौन-सी है – Bharat Ki Sabse Badi Jhil Kaun Si Hai

आज के आर्टिकल में हम भारत की सबसे बङी झील (Bharat Ki Sabse Badi Jhil) के बारे में जानेंगे।

भारत की सबसे बङी झील कौन-सी है – Bharat Ki Sabse Badi Jhil Kaun Si Hai

भारत की सबसे बङी झील ‘चिल्का झील (Chilka Jhil)’ है।

चिल्का झील (Chilka Jhil)  की जानकारी
देश – भारत
राज्य – उङीसा
जिले पुरी जिला
आकार – नाशपाती की आकृति
चौड़ाई – 30 किमी.
लम्बाई – 64.3 किमी. (लगभग 70 किमी.)
गहराई – 4.2 मीटर (13.8 फीट)
क्षेत्रफल – 1100 वर्ग किलोमीटर
प्रसिद्ध अभयारण्य – नालबाना पक्षी अभयारण्य
पर्यटकों के लिए आकर्षक दृश्य – डाॅल्फिन प्वाइंट सतपाङा
झील में प्रसिद्ध डाॅल्फिन – इरावदी डाॅल्फिन
प्रसिद्ध मंदिर – कालिजाई मन्दिर
अन्य नाम – चिलिका झील

चिल्का झील (Chilka Jhil)

चिल्का झील (Chilka Jhil) भारत की सबसे बङी एवं विश्व की दूसरी सबसे बङी समुद्री झील है। चिल्का झील भारत के उड़ीसा राज्य में स्थित है। चिल्का झील खारे पानी की एक लैगून झील है। यह नाशपाती की आकृति में पुरी जिले में स्थित है। चिल्का झील उङीसा प्रदेश के समुद्री अप्रवाही जल में बनी एक झील है। यह समुद्र का ही एक भाग है महानदी द्वारा लायी गई मिट्टी के जमा हो जाने से समुद्र से अलग होकर एक छिछली झील के रूप में हो गया है।

चिल्का झील का निर्माण दया नदी के मुहाने पर होता है, जो (दया नदी) बंगाल की खाङी में बहती है। इसको ’चिलिका झील’ के नाम से भी जाना जाता है। यह भारत की सबसे अधिक खारे पानी की झील है।

चिल्का झील 64.3 किमी. (लगभग 70 किमी.) लम्बी और 30 किमी. चौड़ी है। चिल्का झील लगभग 1100 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल में फैली हुई है। दिसम्बर से जून तक इस झील का जल खारा तथा वर्षा ऋतु में जल मीठा हो जाता है। इसकी औसत गहराई 4.2 मीटर (13.8 फीट) है।

यह एक विशाल मछली पकङने की जगह है। चिल्का झील में मछलियों की करीब 225 प्रजातियाँ मौजूद है। यह झील 132 गाँवों में रह रहे 150,000 मछुआरों को आजीविका का साधन उपलब्ध करवाती है। सर्दी के मौसम में यहाँ प्रवासी पक्षियों का आगमन होता है।

इस झील में इरावदी डाॅल्फिन की संख्या अधिक है। इसी कारण चिल्का झील ’इरावदी डाॅल्फिन’ (Irrawaddy Dolphin) के लिए प्रसिद्ध है। इसे इरावदी डाॅल्फिन का घर भी कहा जाता है।

1981 में, चिल्का झील को रामसर घोषणापत्र के मुताबिक ’अंतर्राष्ट्रीय महत्त्व की आर्द्र भूमि’ के रूप में चुना गया। यह इस महत्त्व वाली पहली भारतीय झील थी। चिल्का झील विशाल क्षेत्रों वाली कीचङदार भूमि व छिछले पानी की खाङी है। भारतीय नवसेना का परीक्षण केंद्र है।

इस खाङी में लगभग 160 प्रजातियों के पक्षी पाए जाते है। अरल सागर, बैकाल झील, रूस, मध्य एशिया, कैस्पियन सागर, लद्दाख आदि स्थानों के पक्षी सर्दियों के मौसम में इस झील में उङ कर आते है। प्रवासी पक्षी लगभग 12000 किमी. से भी ज्यादा दूरियाँ तय करके चिल्का झील पहुंचते है।

चिल्का झील में 30 से ज्यादा प्रवास पक्षी, पक्षियों की 211 प्रजातियाँ व मछलियों की 217 प्रजातियाँ पाई जाती है। चिल्का झील का सर्दियों में मौसम प्रवासी पक्षियों के बहुत अनुकूल होता है इसलिए प्रवासी पक्षी यहाँ सर्दियों के मौसम में आते है और प्रवास करते है।

चिल्का झील को 1981 में भारत का पहला ’वेटलैंड क्षेत्र’ घोषित किया गया।

चिल्का झील में बहुत की आकर्षक दृश्य देखने को मिलते है, जिनको देखने के लिए हजारों पर्यटक यहाँ आते है। 

चिल्का झील में आकर्षक दृश्य डाॅल्फिन प्वाइंट सतपाङा – Chilka Jhil Mein Aakarshak Drishya Dolphin Point Satapada

  • डाॅल्फिन प्वाइंट सतपाङा पुरी जिले में स्थित है।
  • चिल्का झील के इर्द-गिर्द ही सात गाँवों का समूह है, जिसको स्थानीय लोग सतपाङा कहते है। पुरी जिले से 50 किलोमीटर दूर डाॅल्फिन प्वाइंट स्थित है। इसे ’डाॅल्फिन प्वाइंट सतपाङा’ कहते है।
  • इस स्थान पर अनेक पर्यटक मछलियाँ देखने आते है, यहाँ पर हम ये डाॅल्फिन देख सकते है – इरावदी डाॅल्फिन, व्हाइट नोज्ड डाॅल्फिन, काॅमन डाॅल्फिन, बाॅटल नोज डाॅल्फिन।
  • सबसे ज्यादा संख्या में यहाँ ’इरावदी डाॅल्फिन’ (Irrawaddy Dolphin) देखने को मिलती है। अधिकतर पर्यटकों का डाॅल्फिन ही आकर्षक व रोचक दृश्य होता है।

भारत की सबसे बङी झील कौन-सी है

चिल्का झील का मंगलाजोङी गाँव – Chilka Jhil Ka Mangalajodi Ganv

  • चिल्का झील (Chilka Jhil) पर मंगलाजोङी गाँव मछली पकङने के लिए प्रसिद्ध जगह है। जो चिल्का झील के पूर्वी तट पर स्थित है।
  • यह गांव बहुत खूबसूरत है। मंगलाजोङी को पानी के पक्षियों के स्वर्ग के रूप में जाना जाता है।
  • इसकी विशाल आर्द्रभूमि सभी को आकर्षित करती है, और प्रवासी पक्षियों के लिए इसकी आर्द्रभूमि अनुकूल है, इसलिए दुनिया के विभिन्न स्थानों से प्रवासी पक्षी यहाँ आते है। यह गांव प्रवासी पक्षियों की प्रजातियाँ और कई दुर्लभ व विलुप्त पक्षियों का निवास स्थान है।
  • मंगलाजोङी गाँव का नाम यहाँ पर स्थित पुराने जुङवा मंदिर के नाम पर रखा गया है।
  • मंगलाजोङी गाँव के पास ही 250 वर्ष पुराना ’रघुनाथ मंदिर’ भी है जो धार्मिक दृष्टि से महत्त्वपूर्ण है। ‘पतित पावन मंदिर’ इस गाँव का प्राचीन और सबसे बङा मंदिर है।

चिल्का झील का कालिजाई मंदिर – Chilka Jhil Ka Kalijai Mandir

  • चिल्का झील पर एक द्वीप स्थित है जिस पर कालीजाई का एक आकर्षक मंदिर है।
  • देवी कालीजी की इस मंदिर में पूजा की जाती है।
  • यह मंदिर वहाँ के स्थानीय लोगों एवं पर्यटकों के लिए बहुत पूजनीय है।
  • हर साल जनवरी माह में, यहाँ त्यौहार के दौरान एक विशाल पर्व मेला आयोजित किया जाता है मकर संक्रांति। बहुत सारे भक्त यहाँ मकर संक्रान्ति को आते है। यहाँ ’मकर संक्रांति’ का पावन त्यौहार बङे ही धूमधाम से मानते है।

चिल्का झील का नालबाना पक्षी अभयारण्य – Chilka Jhil Ka Nalabana Mandir

  • चिल्का झील के मध्य भाग में स्थित इंद्रप्रस्थ द्वीप पर नालबाना पक्षी अभयारण्य है।
  • यह विश्व का प्रसिद्ध पक्षी अभयारण्य है।
  • नालबाना पक्षी अभयारण्य 6 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में स्थित है।
  • सर्दियों के मौसम में प्रवासी पक्षी यहाँ पक्षी अभयारण्य में प्रजनन के लिए आते है। मानसून में तो यह इंद्रप्रस्थ द्वीप डूब जाता है। इसलिए प्रवासी पक्षी यहाँ सर्दियों के मौसस में आते है। नालबाना पक्षी अभ्यारण्य पूरी तरह से घास से ढाका हुआ है।
  • अनेक देशों से प्रवासी पक्षी यहाँ प्रजनन के लिए आते है जैसे – मध्य और दक्षिण एशिया, रूस, ईरान, हिमालय, कैस्पियन सागर आदि।
  • इस पक्षी अभ्यारण्य में हम कुछ प्रवासी पक्षी को आसानी से देख सकते है, जैसे – काले सर वाले इबिस, बगुले, सारस, ग्रेलाग गीज, काले सर वाले इबिस, गल, एग्रेट, टर्न, ग्रेलेग गीज, किंग फिशर, समुद्री चील आदि।

चिलिका झील से सम्बन्धित महत्त्वपूर्ण प्रश्न – Chilika Jhil Se Sambandhit Mahatvpurn Prashn

1. भारत की सबसे बङी कौनसी झील (Bharat Ki Sabse Badi Jhil Kaun Si Hai) है ?
उत्तर – चिल्का झील।


2. चिल्का झील किस राज्य में स्थित है ?
उत्तर – उङीसा राज्य में।


3. विश्व की दूसरी सबसे बङी समुद्री झील कौनसी है ?
उत्तर – चिल्का झील।


4. चिल्का झील की लम्बाई कितनी है ?
उत्तर – 64.3 किमी. (लगभग 70 किमी.)।


5. चिल्का झील की चौड़ाई कितनी है ?
उत्तर – 30 किमी.।


6. चिल्का झील की गहराई कितनी है ?
उत्तर – 4.2 मीटर (13.8 फीट)।


7.  चिल्का झील की आकृति किससे समान है ?
उत्तर – नाशपाती की आकृति के समान।


8.  चिल्का झील का क्षेत्रफल कितना है ?
उत्तर – 1100 वर्ग किलोमीटर।


9.  चिल्का झील की प्रसिद्ध डाॅल्फिन कौनसी है ?
उत्तर – इरावदी डाॅल्फिन।


10. चिल्का झील को कब भारत का पहला ’वेटलैंड क्षेत्र’ घोषित किया गया ?
उत्तर – 1981 में।


11. चिल्का झील में मंगलाजोङी गाँव क्यों प्रसिद्ध है ?
उत्तर – मछली पकङने के लिए।


12. मंगलाजोङी गाँव का नाम किस मंदिर के नाम पर रखा गया था ?
उत्तर – पुराने जुङवा मंदिर के नाम पर।


13. कालिजाई मंदिर कौनसा त्यौहार बङे धूमधाम से मनाया जाता है ?
उत्तर – मकर संक्रांति का त्यौहार।


14.  विश्व का प्रसिद्ध नालबाना पक्षी अभयारण्य किस झील में है ?
उत्तर – चिल्का झील।


15. नालबाना पक्षी अभयारण्य कहाँ स्थित है ?
उत्तर – चिल्का झील के मध्य भाग में स्थित इंद्रप्रस्थ द्वीप पर।

READ THIS⇓⇓

अर्थव्यवस्था क्या होती है

भूगोल किसे कहते है : परिभाषा, अर्थ, शाखाएं

बेरोजगारी क्या है

चार्टर एक्ट 1833 की पूरी जानकारी

 संविधान का अर्थ ,परिभाषा एवं विशेषताएँ

अभिलेख किसे कहते है

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.